हमारे बारे में पृष्ठभूमि उद्देश्य
संगठनात्मक ढ़ाँचा शासन स्तर निदेशालय स्तर

 

 

 

सूचना का अधिकार - 4(1)बी      
 

बिंदु-(iii) विनिश्चय करने की प्रक्रिया में पालन की जाने वाली प्रक्रिया, जिसमें पर्यवेक्षण और उत्तरदायित्व के माध्यम सम्मिलत हैं

 

                 रेशम विभाग का मुख्य उद्देश्य कृषकों को योजना में प्रावधान के अनुसार सहायता उपलब्ध कराते हुए उन्हें रेशम उत्पादन के माध्यम से रोज़गार उपलब्ध कराया जाना है। क्षेत्र स्तर पर कार्यों का सम्पादन निरीक्षक/प्रदर्शक स्तर के कार्मिकों द्वारा किया जाता है जिनके पर्यवेक्षण के लिए जनपद स्तर पर उप निदेशक/सहायक निदेशक स्तर के अधिकारी नियुक्त हैं जिनके द्वारा क्षेत्रीय स्तर पर आवश्यक सभी निर्णय लिए जाते हैं। जो निदेशक (रेशम)/विभागाध्यक्ष के नियंत्रण में कार्य करते हैं। रेशम विभाग में नीतिगत मामलों पर विभाग के प्रमुख सचिव/सचिव द्वारा विभागीय मंत्रीजी का अनुमोदन प्राप्त किया जाता है। अन्य सभी मामलों में निदेशालय स्तर पर विभागाध्यक्ष एवं शासन स्तर पर प्रमुख सचिव/सचिव में अधिकार निहित हैं।

 
 

 

 

कापीराइट ©2011, रेशम निदेशालय, उत्‍तर प्रदेश सरकार, भारत | 1024x768 पर सर्वोत्तम दृष्‍टि